Home How to earn NEFT, RTGS और IMPS में अंतर ?

NEFT, RTGS और IMPS में अंतर ?

44
0
SHARE

RTGS, NEFT और IMPS में अंतर? यह बैंकिंग सेक्टर की बात है। अब भारत धीरे धीरे डिजिटल बनता जा रहा है, तो बैंकिंग सेक्टर क्यों पीछे रह जाय। बैंकिंग का इस्तेमाल अब चलते फिरते हो रहा है। इसमें कुछ services की वजह से सम्भव हो पता है, जैसे RTGS, NEFT और IMPS इन्ही service की वजह से हमलोग घर बैठे बैंकिंग का लुफ्त उठा पाते है।

पहले थोड़ी सी बैंक के काम के लिए घाटों बैंक के बाहर कतार में खड़ा रहना पड़ता था।ऐसा लगता था, लेकिन अब किसी भी जगह से बैंकिंग का काम हो जाता है जहाँ इंटरनेट कनेक्शन हो। इसके लिए बहुत सारी फैसिलिटी है, जैसे UPI, Netbaking, phone banking हैं। इसके सहयोग से आप घर बैठे bill payment, recharge, credit card bill और बहुत सारी चीजे कर सकते हो।

आधुनिक banking solutions जैसे rtgs full form Real Time Gross Settelment (RTGS), neft full form National Electronic Fund Transfer (NEFT)। और imps full form Immediate Payment service (IMPS) ने payment system को बहुत आसान कर दिया है। ऐसे सेवाओं की जितनी भी तारीफ की जाय कम हैं। क्योकि यह transation को जल्दी और सुरछित पूरा करने में सहायता करती है। आपलोगो में से बहुत सारे लोग इन सेवाओं का लाभ ले रहे होंगे लेकिन क्या आप लोगो को पता RTGS, NEFT और IMPS के बीच क्या अंतर है। यदि नहीं पता है तो कोई बात नहीं में आज इस लेख में इसकी अंतर के विषय में पूरी details में बताऊंगा तो देरी किये बिना सुरु करते है।

मनी ट्रांसफर के अलग अलग तरीके

आप सभी लोग एक या उससे अधिक ऑनलाइन मनी ट्रांसफर मोड का प्रयोग करते होंगे। आधुनिक टेक्नोलॉजी बेस्ड की मदद से इस टेक्नोलॉजी का भरपूर फायदा उठा रहे होंगे। ऑनलाइन बैंकिंग की मदद से अब आप घर बैठे एक account से दूसरे account में पैसे भेज सकते है। इसके लिए सारे बैंक अपने अपने application बनाये है। जिसका इस्तेमाल कर आसानी से money transfar कर सकते है।

अभी की बात करे तो banks ऐसे बहुत से transfer methods का प्रबंध कर रहे है। जैसे की Real Time Gross Settelment (RTGS), National Electronic Fund Transfer (NEFT) हैं। और Immediate Payment service (IMPS) इत्यादि। अलग अलग पहलु जैसे की value of the transaction, transfer की speed, service availability, और दूसरे factors पर ये निर्भर करता है। की लोग इनका इस्तेमाल करे, यह सारे ट्रांसफर आपको अलग अलग फीचर को परबंध करते हैं।क्योकि इन सारे modes का अपने अपने advantage और disadvantage है। इसलिए वो अपने customers को flexibility और convenience प्रदान करते है। इसके साथ बहुत से बैंक के अपना digital wallets हैं। जो की additional methods को परबंद करते है ऑनलाइन मनी ट्रांसफर के लिए।

RTGS, NEFT और IMPS में अंतर

Online transfar method करने के लिए Bank grant करता है किसी भी customer को eligibility देता है। साथ में fund value की limit, settlement speed, और दूसरे factors इन online fund transfar method के लिए depend करते करते है। इसके differences के विषय में निचे आप लोगो को बताने वाला हूँ।

NEFT (National Electronic Fund Transfer)

यह money transfer करने का बहुत ही अच्छा method है क्योकि इसकी कोई लिमिट नहीं है। Minimum 1 रुपया और meximum जितना चाहो उतना transfar कर सकते है। इसका इस्तेमाल दिन के कुछ specific time में ही कर सकते है। इसमें fund transfar को transfer batches के द्वारा किया जाता हैं। (एक दिन में nine batche होते है)जो की Deferred Net Settlement (DNS) पर based होते है। अदि transation जो सिमित समय दिया गया है उसके बाद करते है तो settelment दूसरे working day में होता है। (यहाँ working day का मतलब जिस दिन bank खुलता है)। अभी की बात करे तो कुछ branchs में अलग time कुछ branchs में अलग time जैसे twelve branch में 8 am. से 7 pm. तक।

काम करने के दिन में और six brach में 8 am. से 1 pm. शनिवार में भी किया जाता है। NEFT की सुविधा sunday और बैंक holydays में उपलब्ध नहीं होती है। इसमें जो काम amount का transtion करना चाहते है। उन्हें service charges की चिंता करने की जरूरत नहीं है NEFT के द्वारा बड़े amount को भी transation किया जाता है। तो पर भी अधिक charges देने की जरुरत नहीं होती है क्योकि यह दुसरो से थोड़ सा सस्ता है। इसलिए online money transfar में इसका इस्तेमाल अधिक किया जाता है।

NEFT

के द्वारा एक bank account से दूसरे particular bank account में आसानी से initiate और settle किया जा सकता है। भारत में कही भी आप पैसे भेज सकते है बिना कोई अतिरिक्त charges के, इसमें केवल standard charges ही देने होते है। जो इस प्रकार है(according to SBI Upto Rs. 10,000 का charge हैं। Rs. 2.5 , Upto Rs. 1lac का charge Rs. 5 , Above Rs. 1 lac to 2 lac का charge Rs. 15 और Above Rs. 2 lac का charge है Rs. 25)। इसके साथ जरुरी है को दोनों बैंको में NEFT transfar network enabled हो।

IMPS (Immediate Payment service )

इसका शुरुआत अगस्त 2010 में National Payment Corporation of India की थी। इसकी शुरुआत सबसे पहले तीन बेंको ने किया था। state bank of india (SBI), ICICI Bank और Bank of India. लेकिन देखते देखते ये service इतनी ज्यादा popular हो गई की 22 नवंबर 2010 को सारे बैंको ने इस service को सुरु कर दिया। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है की आप कभी भी एक account से दूसरे account में ट्रांसफर कर सकते है। सप्ताह के सातों दिन पैसे भेज सकते है। इसकी खास बात यह भी है की आप जैसे ही एक account से दूसरे account में Fund transfar करते है तो वो तुरंत दूसरे account में क्रेडिट हो जाता है।

इसके बहुत ही काम charges होते है small amount में कोई charges नहीं होते है लेकिन Big amount में कुछ charges होते है। जो की सारे बैंको के अलग अलग होते है। IMPS से Fund transfar के दो तरीके होते है। एक तो IFSC कोड के द्वारा और दूसरा MIDD कोड के द्वारा कर सकते है। इसकी लिए limited transtion होते है सारे बैंको को अलग अलग होते है। इसका minimum transtion Rs. 1 है और meximum Rs. 2,00,000 है।

RTGS ( Real Time Gross Settelment )

इस Method के द्वारा fund transfar Rs. 2 lakh से लेकर Rs. 10 lakh तक किया जा सकता है। साथ में इसका एक advantage यह भी की RTGS एक Real time settlement Mode है। इसके द्वारा transfar करने से जैसे ही Sender (भजने वाले) के account से debit होता हैं। वैसे ही receiver (पाने वाले) के account में credit हो जाता है। लेकिन इस सुविधा के लिए दोनों ही bank में RTGS की सुविधा enabled होना जरुरी है। वैसे तो सारे bank में RTGS transfar network उपलब्ध होती है। इसके साथ यह भी सलाह दी जाती हैं। की individuals को अपने bank से सीखे संपर्क होना चाहिए और इसके साथ उनके online banking section को refer करना चाहिए। जिससे वो ये discover कर सके की वो इस RTGS payment system की सुविधा के लिए eligible है या नहीं। RTGS की सुविधा दूसरे method की तुलना कुछ अधिक होती है।

RTGS में minimum और maximum fund value की limit होती है, लेकिन ये एक बहुत ही अच्छा माध्यम है। जिन्हे amount तुरन्त transfar करना होता है वो इस method का प्रयोग करते है। यह Efficiency, speed के कारण बहुत ही popular माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here